Mon. Oct 3rd, 2022

हम सभी जानते ही है paytm ने अपना IPO मार्किट मे उतार दिया है. हालांकि अभी इसके आईपीओ bid लगाई जा रही है. Paytm कुल 18300 करोड़ काIPO लेकर मार्किट मे आयी है. आज 8नवंबर को ये IPO खुला है ओर 10 नवंबर तक आप इसमें निवेश कर सकते है. इस ipo के लॉन्च के साथ ही कंपनी के मुख्य फाइनेंसियल ऑफिसर मधुर देवड़ा जी ने कंपनी के कुछ फ्यूचर प्लान एवं भविष्य मे संभावित योजनाओं के खुलासे भी किये.उन्होंने क्रिप्टोकरंसी से सम्बंधित संभावित कुछ खुलासे किये.

Bitcoin trading by paytm

Paytm की बिटकॉइन को लेकर योजना (Paytm’s plan for bitcoin)

मधुर देवड़ा जी के अनुसार paytm क्रिप्टोकरेंसी के लेनदेन का विचार कर सकती है. अर्थात paytm भविष्य मे क्रिप्टोकरंसी (बिटकॉइन ) की ट्रेडिंग पे विचार कर सकता है. परन्तु इस फैसले को लेकर paytm अभी कोई निश्चित फैसला नहीं ले सका है. क्रिप्टो की लोकप्रियता ओर लोगो का उसके प्रति बढ़ता रुझान बहुत सी नयी कम्पनीयों को इस मार्किट मे आकर्षित कर रहा है. पिछले एक साल मे बहुत नयी क्रिप्टो ट्रेडिंग एप्लीकेशन मार्किट मे आयी है. जिससे की लोगो का इन्वेस्टमेंट क्रिप्टो करेंसीमे बढ़ गया है.

Paytm की बिटकॉइन ट्रेडिंग को लेकर अनिश्चितत्ता(Uncertainty about Paytm’s bitcoin trading)

बिटकॉइन सबसे ज्यादा ट्रेड होने वाला ओर सबसे महंगी क्रिप्टो करेंसी है.ओर इसमें सबसे ज्यादा इन्वेस्टमेंट होता है. परन्तु paytm बिटकॉइन की ट्रेडिंग ओर देश मे इसकी मान्यता को लेकर असमंजस मे है. मधुर देवाड़ा के अनुसार यदि बिटकॉइन भविष्य मे भारत मे पूरी तरह से वैध होता है. तो paytm द्वारा इसकी ट्रेडिंग की शुरआत की जा सकती है.जिससे सभी उपभोक्ता लाभान्वित होंगे. 

हालांकि इस समय बिटकॉइन की ट्रेडिंग मे तेज़ी देखी जा रही है. बिटकॉइन ओर एथेरियम जैसी करंसी का उपयोग अब कई देशो मे व्यापार ओर सामान्य लेनदेन के रूप मे भी होने लगा है. परन्तु अभी भारत मे यह शुरू नहीं हुआ है. और सरकार द्वारा भी इसकी वैधता के रुख को साफ नहीं किया गया. इसलिए paytm इसकी योजना को शुरू करने मे  जल्दबाज़ी नही करना चाहता.

हम सब जानते हैँ की रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा क्रिप्टो करंसी के ट्रेडिंग को अवैध कर दिया गया था. परन्तु मार्च 2020 मे सुप्रीम कोर्ट द्वारा इस करंसी पर से प्रतिबन्ध हटा दिया गया था. और इस प्रतिबन्ध हटने के बाद भारत सरकार क्रिप्टो को नियमित करने की योजना पे काम कर रही है. और स्वयं भी क्रिप्टोकरेंसी मार्किट मे उतारने की योजना बना रही है. 

LIC Money Back Policy क्या है और क्यों सबसे बेहतर हैं? पूरी जानकारी हिंदी में

परन्तु इससे पहले सरकार फाइनेंस मिनिस्ट्री और RBI द्वारा इसके बहुत से पहलुओं पे विचार किया जा रहा हैँ. की इसका प्रभाव शेयर मार्किट और रूपये के प्रभाव को कम तो नहीं कर देगा. ऐसी बहुत सी समस्याओ पे विचार किया जायेगा. इसलिए अभी सरकार ने बिटकॉइन आदि को लेकर अपना रुख स्पष्ट नहीं किया है. इसलिए paytm भी इसकी योजना लागु करने मे कोई जल्दबाज़ी के मूड मे नहीं है.

वैसे देखने वाली बात यह हैँ की देवड़ा जी का ये बयान तब आया जब paytm मार्किट मे अपना आईपीओ उतार रहा है. हो सकता है की इस बयान से उसके आईपीओ मे निवेशक ज्यादा इन्वेस्ट करें. इसलिए इस योजना से सम्बंधित बातें मार्किट मे आईपीओ के लिए कुछ सकारात्मक परिणाम ला सकती हैँ.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *