Tue. Sep 27th, 2022

म्यूचुअल फंड, दोस्तों जैसा कि इसके नाम से ही स्पष्ट हो रहा है. कि यह निवेश का एक ऐसा प्रकार है. जिसमें किसी अकेले व्यक्ति के पैसे ना लगकर अपितु बहुत से निवेशकों का पैसा एक साथ एक जगह जमा किया जाता है. और निवेशकों के इस पैसे को इकट्ठा करके शेयर बाजार में निवेश किया जाता है. म्यूचुअल फंड में निवेशकों को उनके निवेश किए गए पैसों पर सालाना एक अच्छा खासा रिटर्न प्राप्त होता है. किसी भी म्यूच्यूअल फंड को ऐसेट मैनेजमेंट कंपनियों द्वारा मैनेज किया जाता है।
दोस्तों, चलिए म्यूच्यूअल फंड क्या है को एक उदाहरण के साथ समझने की कोशिश करते हैं. मान लीजिए म्यूचुअल फंड एक तरह की टोकरी है .जिसमें आपके जैसे ही बहुत सारे निवेशक थोड़ा थोड़ा पैसा डालते हैं. और जो इस म्यूचल फंड का फंड मैनेजर है. वह इस बास्केट में निवेश किए गए पैसे को एकत्रित करके शेयर बाजार, मनी मार्केट तथा बांड्स जैसे इंस्ट्रूमेंट में निवेश करता है. आपके द्वारा इस बास्केट में निवेश किए गए पैसे के बदले आप को एक तरह की यूनिट आवंटित कर दी जाती है। और आपके निवेश पर होने वाले मुनाफे/नुकसान को आप के फंड मैनेजर के द्वारा बांट दिया जाता है.

Table of Contents

    म्यूचुअल फंड के प्रकार – Types of Mutual Funds in Hindi

    दोस्तों ऊपर दी गई जानकारी में हमने म्यूच्यूअल फंड क्या है इसके बारे में तो जान लिया लेकिन आइए अब हम जानते हैं, कि यह म्यूच्यूअल फंड कितने प्रकार के होते हैं.जब कभी भी कोई निवेशक अपने पैसे को निवेश करने का विचार बनाता है. तो उसके मन में म्यूचुअल फंड के प्रकार को लेकर एक समस्या उत्पन्न होती है क्योंकि म्यूचुअल फंड कई प्रकार के होते हैं.

    दोस्तों आज की तारीख में लगभग 1700 से ज्यादा म्यूच्यूअल फंड है. जिनमें आप अपने पैसे को निवेश कर सकते हैं। इनमें से पिछले कुछ सालों में जिन भी म्यूच्यूअल फंड्स ने अपने निवेशकों को सबसे ज्यादा रिटर्न दिया है. उसके बारे में हम आगे जानेंगे लेकिन उससे पहले आइए जानते हैं कि यह म्यूचल फंड कितने प्रकार के होते हैं.

    मोटे तौर पर बात करें तो म्यूच्यूअल फंड्स को दो तरह से विभाजित कर सकते हैं.

    @. Assets class
    @. Structure

    1. Asset Class – इस प्रकार के म्यूचल फंड के अंतर्गत निवेशकों द्वारा निवेश किए गए पैसे को एक से अधिक मार्केट इंस्ट्रूमेंट में निवेश किया जाता है.

    ऐसेट क्लास के अंतर्गत 3 प्रकार के म्यूच्यूअल फंड आते हैं.
    ● Equity Mutual Fund
    ● Debt Mutual Fund
    ● Hybrid Mutual Fund

    Structure Class- इस स्ट्रक्चर क्लास म्युचुअल फंड्स के अंतर्गत म्युचुअल फंड्स मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं.
    ● Open Ended Fund
    ● Closed Ended Fund

    इसके अलावा भी म्यूचअल फंड के कई प्रकार होते हैं जिनकी जानकारी हम विस्तार से आने वाले आर्टिकल में आपको बताएंगे.

    Mutual Fund के फायदे {Advantages of Mutual Fund in Hindi}

    कोरोना जैसी महामारी के बाद आज के समय में सभी लोगों की निवेश के प्रति जागरूकता काफी बढ़ चुकी है। आज हर एक व्यक्ति अपने पैसे को एक ऐसे स्थान पर निवेश करना चाहता है.जहां से वह व्यक्ति अपने निवेश पर एक अच्छा रिटर्न ले सके और निवेश के सभी विकल्पों में Mutual fund एक बहुत ही अच्छा और पसंदीदा विकल्पों में से एक है.तो चलिए जानते हैं म्यूचुअल फंड में निवेश करने के क्या-क्या फायदे हैं, और आपको इसमें निवेश क्यों करना चाहिए।

    Benifits Of Mutual Funds –

    • प्रोफेशनल मैनेजमेंट की सुविधा
    • कम पूंजी से भी निवेश की सुविधा
    • रिटर्न प्राप्ति में सहायक. अच्छा रिटर्न
    • कम्पाउंडिग में सहायक
    • निवेश में विविधता
    • निवेश करने में सहायक
    • निवेश में विविधता
    • निवेश करने में आसान
    • समय की बचत
    • सुरक्षित निवेश
    • पूंजी निवेश तथा निकासी में आसान
    Invest in Mutual Funds

    म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें (How to Invest in Mutual Funds in Hindi)

    वर्तमान समय में निवेश के तरीकों में म्यूचुअल फंड सबसे लोकप्रिय और सबसे अच्छा रिटर्न देने वाला तरीकों में से एक है। लेकिन अब ऊपर दी गई जानकारी से आपने ये तो जान लिया कि म्यूचल फंड क्या है. और इसके फायदे क्या-क्या है लेकिन अब आपके मन में एक सवाल आता है, कि आखिर वे कौन से तरीके हैं ,जिनकी मदद से अपनी Mutual Fund में निवेश कर सकते हैं. तो आइए जानते हैं कि Mutual Fund में निवेश के विकल्पों के बारे में.
    ● AMC की वेबसाइट पर जाकर
    ● AMC के आफिस की मदद से
    ● ब्रोकर की मदद से
    ● ऐप्स की मदद से
    ● बैंक की मदद से

    बेस्ट Mutual Fund को कैसे चुनें (How to choose the Best Mutual Fund)

    अक्सर इन्वेस्ट करने के लिए इन्वेस्टर आईपीओ( IPO), शेयर्स,सेविंग स्कीम , गोल्ड -सिल्वर( गोल्ड Exchange ) आदि में पैसा लगतेम्यूचुअल फंड क्या है, और इसमें निवेश के तरीकों को जाने के बाद जब कोई निवेशक बाजार में निवेश के लिए आता है। तो उसके मन में एक बड़ा सवाल आता है, कि यदि कोई निवेशक बाजार में म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहता तो उसको किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। यदि आप भी म्यूचल फंड में निवेश करना चाहते हैं, तो आपको कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिए तो चलिए जानते हैं. इन सभी पॉइंट्स के बारे में जिनकी मदद से आप सही MUTUAL FUND का चुनाव कर सकते हैं.

    . लक्ष्य बनाना

    Mutual Fund में निवेश करने से पहले आपको एक लक्ष्य बनाना है. उसी के अनुरूप आपको यह ज्ञात होगा कि आपको किस प्रकार के म्यूचल फंड में निवेश करना है ,और कितने समय के लिए निवेश करना है.

    रिस्क मैनेजमेंट ( RISK Management )- किसी म्यूच्यूअल फंड में निवेश करने से पहले आपको अपने रिस्क लेने की क्षमता पर भी ध्यान देना है, यदि आप अपने निवेश पर अधिक रिस्क ले सकते हैं तो आपको स्मॉल कैप फंड में निवेश करना चाहिए। और यदि आप कम रिस्क लेना चाहते हैं तो आपको लार्ज कैप फंड में निवेश करना चाहिए।

    निवेश की अवधि

    जब भी कोई निवेशक म्यूचुअल फंड में निवेश करता है तो वह अपने रिटर्न के अनुसार एक समय अवधि के लिए निवेश करता है, तो यदि आप भी अपने पैसे को Mutual Fund में निवेश करना चाहते हैं, तो आपको अपने निवेश की अवधि पर भी ध्यान देना है यदि आपको 3 दिन से 3 महीने की अवधि के लिए निवेश करना चाहते हैं तो आपके लिए लिक्विड फंड्स बेस्ट रहेंगे। यदि आपकी निवेश अवधि 3 महीने से 1 वर्ष के बीच है तो आप अल्ट्रा शॉर्ट टर्म फंड में निवेश कर सकते हैं। 1 से 5 वर्ष तक के लिए हाइब्रिड बैलेंस फंडस बेहतर विकल्प है और 5 वर्ष से ज्यादा समय के लिए इक्विटी फंड बहुत ही अच्छा विकल्प है.

    फंड का प्रर्दशन

    जिस भी म्यूचल फंड में निवेश करना चाहते हैं, उस फंड की पिछले वर्षों के प्रदर्शन को देखना भी किसी भी Mutual fund के चुनाव करने में एक महत्वपूर्ण पद है. आप जिस भी म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहते हैं उसमें आपको पिछले कुछ वर्षों की परफॉर्मेंस जरूर देखनी चाहिए। आपको किसी भी ऐसे म्यूचल फंड में निवेश नहीं करना चाहिए, जिसने किसी वर्ष तो निवेशकों को एक अच्छा रिटर्न दिया लेकिन उसके बाद से वह अच्छे रिटर्न देने में नाकाम साबित हुआ हो.

    फंड मैनेजर की जानकारी
    किसी भी निवेशक को किसी म्यूचल फंड में निवेश करने से पहले उस म्यूचल फंड के फंड मैनेजर के बारे में जानकारी कर लेना आवश्यक है. इस जानकारी में आपको फंड मैनेजर का अनुभव तथा योग्यता का ध्यान रखना है, जिसके लिए आप उस फंड के पिछले सभी वर्षों के रिटर्न को देख सकते हैं इसकी जानकारी आप ऑनलाइन कर सकते हैं.

    रेटिंग

    किसी भी म्यूच्यूअल फंड के पिछले वर्षों की परफॉर्मेंस के आधार पर उसे crisil, morning star तथा value reaserch जैसी एजेंसियों द्वारा रेटिंग दी जाती है. आपको निवेश से पहले किसी भी म्यूचल फंड के रेटिंग की जानकारी करनी चाहिए . लेकिन एक बात हमेशा ध्यान रखें कि रेटिंग किसी भी म्यूच्यूअल फंड की परफॉर्मेंस कि संपूर्ण जानकारी नहीं देती .

    फंड का साइज

    किसी भी म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले आपको फंड की साइज देखना चाहिए . अगर आसान भाषा में समझा जाये तो इसका मतलब है कि किसी भी म्युचुअल फंड द्वारा मैनेज किए जाने वाले ऐसेट की टोटल मार्केट वैल्यू क्या है.

    फंड की उम्र

    आप जिस भी म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहते हैं . तो उस म्यूचल फंड की उम्र आपको ध्यान रखनी चाहिए। कि उसमें फंड स्कीम को कब लांच किया गया था यदि कोई म्यूचल फंड ऐसा है जो काफी पुराना है तो यह निवेश के लिए एक बेहतर विकल्प है.

    फंड का पोर्टफोलियो

    फंड का पोर्टफोलियो देखने से मतलब है कि आप जिस भी म्यूचुअल फंड में निवेश कर रहे हैं . उस म्युचुअल फंड के फंड मैनेजर द्वारा पैसा कहां-कहां और किन-किन शेयरों में पैसा लगाया जा रहा है ,कहीं फंड मैनेजर ने पैसे को किसी ऐसी जगह निवेश तो नहीं किया है. जिस शेयर की ग्रोथ संभावना कम है . इसके लिए आप कई म्युचुअल फंड्स की आपस में तुलना कर सकते हैं.

    2021 में किन आईपीओ में निवेश करके पैसा कमा सकते हैं ?

    बेस्ट रिटर्न म्यूचुअल फंड 2021{Best Return Mutual Fund 2021 in Hindi}

    पिछले डेढ़ साल में शेयर बाजार में काफी तेजी देखने को मिली है तेजी के इसी दौर में बहुत सी म्यूच्यूअल फंड स्कीमें ऐसी भी रही। जिन्होंने पिछले डेढ़ सालों में निवेशकों को उनके पैसों पर लगभग 3 गुना से ज्यादा तक का रिटर्न प्रदान किया । खासकर शेयर बाजार में जितने भी नए निवेशकों के लिए इक्विटी म्यूचुअल फंड काफी बेहतर प्रदर्शन दिया पिछले महीने 24 सितंबर 2021 को सेंसेक्स 60000 तक के आंकड़े तक पहुंच गया था। इस तेजी के दौर में नए निवेशकों ने एसआईपी के जरिए म्यूचल फंड में हर महीने निवेश करके एक अच्छा रिटर्न कमाया। तो चलिए जानते हैं कि वह ऐसे कौन से म्यूच्यूअल स्कीम है जिन्होंने इस तेजी के दौर में अपने निवेशकों को सबसे ज्यादा रिटर्न कमा कर दिया।

    • Construction – 14.37%
    • FMCG- 14.03%
    • Metals – 11.39%
    • Energy – 9.99%
    • Health care – 6.95%
    • Services – 5.4%
    • Technology – 5.2%
    • Communication-2.7%
    • Textiles – 2.66%

    Best Mutual Fund 2021-

    SR.NOName of Company last 6 Month Returns last 1year Returns last 3 Year Returns
    1.ICICI Prudential Technology Direct Plan growth 44.08%95.12%41.08%
    2.Axis Small Cap Fund Direct Growth 33.12%85.39% 37.29%
    3.Parag Parikh Flexi cap Fund Direct Growth 28.57%60.5830.33%
    4.Tata Digital Indirect Fund Direct growth 42.75%91.02%40.38%
    5.Axis Blue chip fund direct21.81%49.67%25.17%
    6.Sbi Small cap fund 27.11%80.21%31.46%
    Company mutual fund returns ( till 10/10/2021)

    सामान्यतः करीबन सभी कंपनियों के रिजल्ट कोविद के बाद अच्छे रहे है. क्यूंकि कोविद के कारन शेयर मार्किट में बहुत बड़ी गिरावट देखने को मिली थी.जिसने सभी कम्पनियो के शेयर्स मूल्य को अधिकतम 80-90% तक गिरा दिया था. उसके बाद जब मार्किट रिकवर हुआ और वर्तमान में मार्किट निफ़्टी 17000 व सेंसेक्स 60000 के लेवल को छू गया है। इसलिए पिछले १ साल के रेतुर्न सभी कम्पनियो के अच्छे है।

    कृपया सभी पाठक ध्यान दें 

    मै  सभी पाठको से यह कहना चाहता हूँ  की मेरे डाली गयी पोस्ट या भविष्य में डाली जाने वाली सभी पोस्ट के कंटेंट को लिखने से पूर्व सभीओ जानकारियों को एकत्र करके  उन सभी का बेहतर तरीके से अध्ध्यन करके फिर उसे ब्लॉग पे पोस्ट किया जाता है। यह सभी जानकारिया सभी का ज्ञानवर्धन करने व सभी को उचित जानकारी प्रदान कराने के लिए किया जाता है .. चूँकि सरकार  की पॉलिसियों और आर्थिक गतिविधियों मे , बैंक ,म्यूच्यूअल फंड्स,शेयर मार्किट आदि सभी मे  में बहुत से बदलाव आये दिन होते रहते है।

    इसलिए आप स्वयं भी किसी  भी प्रकार के निवेश करने से पूर्व अपने स्तर  पे भी उसकी जाँच  करे व अपने स्वविवेक का उपयोग करने के पश्चात् ही कोई निर्णंय लें।  अतः  भविष्य  होने वाली किसी भी प्रकार  की हानि या किसी भी आर्थिक नुक्सान के  उत्तरदायी WWW.Bazaaraajtak.com या इस ब्लॉग वेबसाइट के ओनर या उसके कोई एम्प्लोयी नहीं होंगे. इसलिए सभी प्रकार जोखिम  के निर्णय स्वयं के स्वविवेक से ले. मेरी और से आप सभी को शुभकामनाये।

    धन्यवाद

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *