Tue. Sep 27th, 2022

धनवान बनने के लिए ना केवल पैसा कमाना जरूरी होता हैं बल्कि उसे सटीक रूप से निवेश करना भी जरूरी हैं। अगर पैसा निवेश करके उससे बेहतरीन रिटर्न प्राप्त नहीं कि जाए तो बाद में पछताना पड़ सकता है .तो ऐसे में बेहतर हैं कि पहले से ही पैसा निवेश करना शुरू कर दिया जाए. काफी सारे लोग ऐसे हैं जो पैसा निवेश करने से घबराते हैं क्योंकि इन्हें डर लगता है कि मेहनत से कमाया हुआ पैसा कही अटक ना जाये.लेकिन जरूरी नहीं हैं. कि पैसा रिस्क के साथ ही निवेश किया जाए. इस लेख में हम ‘भारत मे निवेश के लिये 5 बेहतरीन सेविंग्स प्लान’ (5 Best Savings Plans in India) के बारे में बात करेंगे जिनमे सुरक्षित रूप से पैसा निवेश करके बेहतरीन रिटर्न प्राप्त की जा सकती हैं.

Table of Contents

    भारत मे निवेश के लिये 5 बेहतरीन सेविंग्स प्लान – 5 Best Savings Plans in India

    हमारे देश भारत की इकोनामी तेजी से आगे बढ़ रही हैं और वह समय भी दूर नहीं है जब हम विकसित देशों की सूची में गिने जाएंगे तो ऐसे में तेजी से आगे बढ़ते हुए इस देश मे कई सेक्टरों में निवेश करके काफी बेहतर रिटर्न प्राप्त की जा सकती हैं. लेकिन काफी सारे लोग ऐसे हैं .जिनकी आय सीमित है और यह सुरक्षित निवेश करना चाहते हैं.अगर आप भी उन्ही लोगो के से एक हैं तो आप इन 5 बेहतर सेविंग्स प्लान (5 Best Savings Plan in India) में पैसा निवेश कर सकते हो.

    • • National Savings Certificate
    • • Senior Citizen Savings Scheme
    • • Recurring Deposits
    • • Post Office Monthly Income Scheme
    • • Public Provident Fund

    National Savings Certificate – राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र

    National Savings Certificate या फिर कहा जाए तो ‘राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र’ आज के समय मे सबसे सुरक्षित और बेहतरीन निवेशों में से एक माना जाता हैं जो सरकार के द्वारा चलाये जाने वाला एक बेहतरीन इन्वेस्टमेंट प्लान है। कोई भी व्यक्ति अपने नजदीकी पोस्ट आफिस में अकाउंट खुलवाकर नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट में निवेश शुरू कर सकता है. नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट के द्वार सरकार निवेशकों को निवेश करने के लिए उत्साहित करती हैं। यह निवेश प्लान मुख्य रूप से आर्थिक तौर पर कमजोर और सामान्य आय वाले परिवारों के लिए बनाया गया हैं।

    नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट में निवेशकों को निर्धारित रिटर्न मिलती हैं। नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट में निवेशकों को अपनी इच्छा और सुविधा के अनुसार किसी अमाउंट का नेशनल सर्टिफिकेट खरीदना होता हैं और यह 5 या 10 साल के लिये रखना होता हैं। सालाना रिटर्न के अनुसार सर्टिफिकेट के मैच्योर हो जाने पर निवेशक को उसका पैसा रिटर्न्स सहित दिया जाता हैं. 18 वर्ष की उम्र या फिर उसके बाद से इस सर्टिफिकेट में पैसा निवेश किया जा सकता हैं। नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट से जुड़े कुछ मुख्य बिंदु इस प्रकार हैं:

    • • नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट सरकार के द्वारा चलाये जाने वाला Savings Plan हैं।
    • • इनकम टैक्स एक्ट सेक्शन 80 के तहत 1 लाख 50 हजार तक के सालाना निवेश पर इनकम टैक्स में छूट भी मिलती हैं।
    • • नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट में 5 से 10 साल के लिए निवेश करना होता हैं।
    • • वर्तमान में निर्धारित नियमो के अमुसर NSC में 5 साल के निवेश पर 7.9% सालाना और 10 साल के निवेश पर 8.8% सालाना का रिटर्न मिलता हैं।
    • • NSC में 100 रुपये के शुरुआती अमाउंट के साथ भी निवेश किया जा सकता हैं।
    • • हिंदू अविभक्त परिवार, ट्रस्टों और नॉन-रेजिडेंट भारतीयों के अलावा कोई भी इस स्कीम में निवेश कर सकता हैं।
    • • इसमें निवेश राशि मैच्योरिटी से पहले नहीं निकाली आ सकती।
    Best saving plan

    Senior Citizen Savings Scheme – वरिष्ठ नागरिक बचत योजना

    जो लोग 60 वर्ष की उम्र पर कर चुके हैं और रिटायर हो चुके हैं, वह अपना पैसा वाकई में काफी सोच समझके निवेश करते है और यह सही भी हैं क्योंकि इस उम्र में व्यक्ति अपने पैसों के साथ जोखिम लेने पसंद नही करता। Senior Citizen Savings Plan ऐसे ही लोगो के लिए बनाया गया हैं. सीनियर सिटीजन सेविंग्स प्लान में निवेश करके निवेशक पैसों की उच्च सुरक्षा, रेगुलर इनकम एयर टैक्स बचाने का बेहतरीन मौका मिल सकता हैं. इस स्कीम का लाभ डाक घर या फिर चुनिंदा बैंकों के द्वारा उठाया जा सकता हैं.

    60 वर्ष की उम्र पर करने वालो के अलावा स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना या सेवानिवृत्ति को चुनने वाले 55 से 60 वर्ष के लोग और 50 या इससे अधिक उम्र के रिटायर्ड डिफेंस के लोग भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में काफी अच्छा खासा ब्याज भी मिलता है और साथ ही टैक्स में बचत भी जा सकती हैं। सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम से संबंधित कुछ मुख्य बिंदु इस प्रकार है:

    सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम वरिष्ठ लोगों के लिए सबसे बेहतरीन निवेश विकल्पों में से एक हैं।

    • सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में करीब 7.4% का सालाना ब्याज मिलता हैं।

    • • सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में न्यूनतम हजार रुपया और अधिकतम 15 लाख रुपए तक निवेश किए जा सकते हैं।
    • • जॉइंट अकाउंट या अधिक अकाउंट होने के बाद भी 15 लाख रुपए रुपए और रिटायरमेंट के दौरान प्राप्त हुई की राशि से अधिक भी निवेश नहीं किया जा सकता।
    • • स्कीम में एक लाख रुपये से कम निवेश करने के लिए पैसा केस में देना होगा जबकि इससे अधिक अमाउंट के लिए चेक दया जा सकता हैं।

    • इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80सी के तहत स्कीम में निवेश करके 1 लाख 50 हजार रुपये तक का टेक्स्ट डिडक्शन क्लेम किया जा सकता है।

    PF क्या हैं? PF से ऑनलाइन पैसे कैसे निकाले !

    Recurring Deposits – आवर्ती जमा (आरडी)

    वित्तीय संस्थाओं के द्वारा ऑफर किया जाने वाला एक बेहतरीन निवेश विकल्प रिकरिंग डिपॉजिट यानी की आरडी भी है। जो लोग नियमित तौर पर पैसा कमाते हैं यानी कि व्यवसाय या फिर नौकरी करते हैं उन लोगों के लिए आरडी सबसे बेहतरीन निवेश विकल्पों में एक है जहां कोई अधिक खतरा भी नहीं होता और बेहतरीन रिटर्न भी मिल जाते हैं। बैंकों और पोस्ट ऑफिस दोनों के द्वारा ही यह निवेश विकल्पों पर किया जाता है और निवेशक अपनी सुविधा के अनुसार किसी भी वित्तीय संस्था का इस निवेश के लिए चुनाव कर सकता है।

    आवर्ती जमा अर्थात रिकरिंग डिपॉजिट्स में नियमित तौर पर अर्थात हर महीने पैसा निवेश करना होता है और निवेश अवधि पूरी होने के बाद मैच्योरिटी पर निवेशक को उसका अमाउंट ब्याज सहित दिया जाता है। इस तरह के निवेश में निवेशक टर्म पीरियड, अमाउंट और मंथली डिपॉजिट का चुनाव कर सकता है। बैंक आरडी शुरू करने के लिए न्यूनतम अमाउंट ₹500 है तो वहीं पोस्ट ऑफिस में आरडी शुरू करने के लिए न्यूनतम अमाउंट ₹10 निर्धारित किया गया है। आवर्ती जमा अर्थात आरडी से संबंधित मुख्य बिंदु कुछ इस प्रकार है:

    • • नियमित तौर पर निवेश करने की क्षमता रखने वालों के लिए आरडी सबसे बेहतरीन निवेश विकल्पों में से एक है।
    • • विभिन्न वित्तीय संस्थाओं के द्वारा आरडी का निवेश विकल्प दिया जाता है और इस तरह के निवेश में काफी कम रिस्क होता है।
    • • बैंक में आरडी के लिये 500 का निवेश अनिवार्य है तो वही पोस्ट ऑफिस आरडी निवेश में न्यूनतम 10 रुपये का निवेश अनिवार्य हैं।
    • • वित्तीय संस्था के अनुसार आरडी पर मिलने वाला ब्याज अलग अलग हो सकता है लेकिन पोस्ट ऑफिस पर इस तरह के निवेश में 8.4% का ब्याज मिलता है।
    • • 10 साल से अधिक उम्र का कोई भी व्यक्ति आरडी में निवेश करना शुरू कर सकता है।

    Post Office Monthly Income Scheme – डाकघर मासिक आय योजना

    अगर आप निवेश योजनाओं में रुचि रखते हैं तो आपको यह बात भली-भांति बताओगे कि पोस्ट ऑफिस के द्वारा एक से बढ़कर एक निवेश योजना चलाई जाती है जो निवेशकों को काफी लाभ देती है। पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम में निवेश करके कोई भी निवेशक एक रेगुलर इनकम तैयार कर सकता है और काफी अच्छा खासा ब्याज प्राप्त कर सकता है वह भी बिना किसी खतरे के क्योंकि यह स्कीम गवर्नमेंट के द्वारा स्पॉन्सर की जाती है। जब इस स्कीम का मैच्योरिटी पीरियड खत्म हो जाता है तो या तो निवेशक वापस से पैसा इसकी में लगा सकता है या फिर उस पैसे को प्राप्त कर सकता हैं।

    डाकघर मासिक आय योजना में निवेशक शुरुआती अमाउंट के साथ निवेश की शुरुआत कर सकता है और बाद में उस अमाउंट को धीरे धीरे बढ़ा सकता है। इस योजना के बारे में एक खास बात यह भी है इसमें माइनर भी निवेश कर सकते हैं। क्योंकि पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम में रिटर्न काफी अच्छा मिलता है तो यह स्कीम वर्तमान में Best Savings Plan in India की लिस्ट भी शामिल की जाती है। पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम से संबंधित कुछ मुख्य बिंदु इस प्रकार है:

    क्रिप्टो माइनिंग कर के कैसे पैसा कमा सकते है घर बैठे

    • • रेगुलर इनकम और बेहतरीन रिटर्न प्राप्त करने के लिए डाकघर मासिक आय योजना सबसे बेहतरीन सेविंग प्लांस में से एक है।
    • • क्योंकि डाकघर मासिक आय योजना सरकार के द्वारा स्पॉन्सर होती है तो इसमें किसी तरह का कोई रिस्क भी नहीं रहता।
    • • पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम में 6.60 प्रतिशत का निवेश किया जा सकता हैं।
    • • पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम में 18 वर्ष या इससे अधिक उम्र के निवेशक 4 लाख 50 हजार रुपए तक निवेश कर सकते हैं और माइनर निवेशक 3 लाख रुपये तक निवेश कर सकते हैं।

    Public Provident Fund – सामान्य भविष्य निधि

    भारत के नेशनल सेविंग इंस्टिट्यूट के द्वारा साल 1968 में सामान्य भविष्य निधि अर्थात पब्लिक प्रोविडेंट फंड की शुरुआत की गई थी जिससे कि सामान्य आय वाले लोग निवेश के द्वारा अपने भविष्य को सुरक्षित कर सके। पब्लिक प्रोविडेंट फंड को बचत के लिए सबसे बेहतरीन और सुरक्षित निवेश विकल्पों में से एक माना जाता है जिसके अंदर ₹500 से लेकर 1.5 लाख रुपए तक का सालाना निवेश करके निवेशक काफी अच्छा खासा रिटर्न प्राप्त कर सकता है। पब्लिक प्रोविडेंट फंड से संबंधित कुछ मुख्य बिंदु इस प्रकार है:

    • • विभिन्न बैंकों और पोस्ट ऑफिस के द्वारा पब्लिक प्रोविडेंट फंड लाभ उठाया जा सकता है।
    • • पब्लिक प्रोविडेंट फंड में कोई भी निवेशक ₹500 से लेकर 1.5 लाख रुपए तक का सालाना निवेश कर सकता है।
    • • पब्लिक प्रोविडेंट फंड में 7.6% तक की बेहतरीन इंटरेस्ट रेट प्रोवाइड की जाती है।
    • • इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80सी के अनुसार पब्लिक प्रोविडेंट फंड में निवेश करके टैक्स डिडक्शन का लाभ भी उठाया जा सकता हैं।
    • • क्योंकि पब्लिक प्रोविडेंट फंड को सरकार के द्वारा प्रोत्साहित किया जाता है तो इसमें निवेशको का पैसा भी सुरक्षित रहता है।

    निष्कर्ष!

    यह सब हम सभी भली-भांति समझते हैं कि आर्थिक समस्याओं से दूरी बनाए रखने के लिए न केवल पैसा कमाना जरुरी है बल्कि उसे सटीक रूप से निवेश भी करना चाहिए जिससे कि हम पैसों से पैसा भी बना सके और साथ ही आवश्यकता के समय पर उन पैसों को काम में ले सके। स्टॉक मार्केट और रियल एस्टेट जैसे काफी सारे ऐसे विकल्प उपलब्ध है जो काफी बेहतर रिटर्न प्रदान करते हैं लेकिन हर कोई इनमें निवेश नहीं करता क्योंकि इस तरह के निवेश विकल्पों में रिटर्न तो काफी अच्छा मिल सकता है पर खतरा भी उतना ही होता है। यही कारण हैं कि हमने इस लेख में ‘ भारत मे निवेश के लिये 5 बेहतरीन सेविंग्स प्लान’ (5 Best Savings Plans in India) के बारे में बात की है जिसमें निवेश करके आप न केवल अपने पैसों को सुरक्षित कर सकते हो बल्कि बेहतरीन रिटर्न भी प्राप्त कर सकते हो।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *